ईक्षण

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ईक्षण संज्ञा पुं॰ [सं॰] [वि॰ ईक्षणीय, ईक्षित, ईक्ष्य]

१. दर्शन । देखना ।

२. आँख । उ॰— पंकज के ईक्षण शरद हँसी । - बेला, पृ॰ २२ ।

३. दो (२) की संख्या का सूचक शब्द (को॰) ।

४. विवेचन । विचार । जाँच । विशेष—इसमें अनु, नि, परि, प्रति, अभि, अप, उप, या सम् उपसर्ग लगाकर अन्वीक्षण, निरीक्षण, परीक्षण, प्रतीक्षण, अभी- क्षण, अपेक्षण, उपेक्षण, समीक्षण आदी शब्द बनाए जाते हैं ।