ईर्षणा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ईर्षणा पु संज्ञा स्त्री [सं॰ इर्ष्यण] ईर्ष्या । हसद । डाह । उ— पर की पुण्य अधिक लखि सोई । तबै ईर्षणा मन में होई ।— विश्राम (शब्द॰) ।