ईर्ष्यक

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ईर्ष्यक ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰] वैद्यक के अनुसार एक प्रकार के नपुंसक जिन्हें उस समय कामोत्तोजना होती है जिस समय वे किसी दूसरे को मैथुन करते हुए देखते हैं ।

ईर्ष्यक वि॰ ईर्षालु । डाह करनेवाला [को॰] ।