ईषा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ईषा संज्ञा स्त्री [सं॰] गाडी या हल में वह लंबी लकडी़ जिसके सिरे पर जुआ बाँध कर बैल को जोतते हैं । हरसा । हरिस ।