ईसुरी

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ईसुरी ^१ पु संज्ञा स्त्री [सं॰ ईश्वरी] दुर्गा । पार्वती । उ॰—इनके नमक तें ईसुरी हमको करै रन में अदा ।- पद्माकर ग्रं॰, पृ॰१८ ।

ईसुरी ^२ वि॰ [सं॰ ईश्वरीय] दे॰ 'ईश्वरीय' । उ॰ -दस औतार ईसुरी माया करता करि जिन्ह पूजा । कहै कबीर सुनो हो साधो उपजै खपै सो दूजा ।— घ़ट॰,पृ॰ २६४ ।