उकासी

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उकासी पु ^१ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ उकसना] सामने से परदे का हट जाना । खुल जाना । उ॰—राखी ना रहत जऊ हाँसी कसि राखी देव नैसुक उकासी मुख ससि से उलसि उठैं ।—देव (शब्द॰) ।

उकासी ^२ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ अवकाश] छुट्टी । फुरसत ।