उकिरना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उकिरना पु क्रि॰ अ॰ [सं॰ उत्कीर्ण] उभड़ना । ऊपर होना । उ॰—रस सरस कुच कहि चंद । उर उकिर आनँद कंद । ।— पृ॰ रा॰, १४ ।१५२ ।