उकीरना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उकीरना क्रि॰ स॰ [सं॰ उत् √ कृ>उत्किरण=ऊपर फेंकना, उभारदार लिखना]

१. उभाड़ना । उखाड़ना ।

२. उचाड़ना उकेलना ।

३. खोदना ।

४. नक्काशी करना । उकेरना । उ॰—इंदु के उदोत तें उकोरी ऐसी काढ़ी सब सारस सरस सोभासार तें निकारी सी ।—केशाव ग्रं, भा॰ १, पृ॰ १९० ।