उकुसना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उकुसना पु क्रि॰ स॰ [हिं॰ उकासना] उजाड़ना । उधेड़ना । उ॰—उकुसि कुटी तेहि छन तृण काटी । मूरति चहुँ कित पाथर पाटी । ।—रघुराज (शब्द॰) ।