उक्दा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उक्दा संज्ञा पुं॰ [अ॰ उक्दह]

१. ग्रंथि । गाँठ ।

२. भेद । रहस्य । उ॰—यह वह उक्दा है जो किसी से अब तक नहीं खुला प्यारे ।—भारतेंदु ग्रं॰, भा॰ २, पृ॰ २०२ ।