उचाकु

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उचाकु पु † संज्ञा पुं॰ [हिं॰ उचाट या सं॰ उत्चक = भ्रांति] उचाट । उ॰—नींदौ जाइ, भूखौ जाइ, जियहू में जाइ, जाइ उरहू में आइ आइ लागत उचाकु सो । —गंग॰, पृ॰ १३ ।