उछाल

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

उछाल ^१ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ उच्छाल]

२. सहसा ऊपर उठने की क्रिया

२. फलाँग । चौकड़ी । कुदान । जैसे, हिरन की उछाल सबसे अधिक होती है । क्रि॰ प्र॰— भरना । मरना । लेना ।

३. ऊपर उठने की हद या ऊँचाई ।

उछाल ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰ छर्दि, प्रा॰ छड्डि] उलटी । कै । वमन ।