ऊँहूँ

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऊँहूँ † अव्य॰ [देश॰] कभी नहीं । हर्गिज नहीं । विशेष—जब लोग किसी प्रश्न के उत्तर में आलस्य से वा और किसी कारण से मुँह खोलना नहीं चाहते तब इस अव्यक्त शब्द से काम लेते हैं ।