ऊटक

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऊटक नाटक संज्ञा पुं॰ [सं॰ नाटक अथवा हिं॰ ऊटक (असद्वशा, नुकरणात्मकपूर्वद्विरुक्ति+सं॰ नाटक] इधर उधर का काम । वह काम जिसका कुछ निश्चय न हो । जैसे,—(क) बैठने से तो काम चलेगा नहीं; कुछ ऊटक नाटक ही होगा । (क) वह ऊटक नाटक करके किसी प्रकार गुजर करता है ।