ऊबन्धना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऊबंधना पु क्रि॰ स॰ [हि॰ बाँधना] बाँधना । उ॰—सूजै घर बाघौ सकबंधी बाँधे पाप किया ऊबंधी । —रा॰ रू॰, पृ॰ १४ ।