ऊर्द्ध्वस्थिति

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऊर्द्ध्वस्थिति संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. अश्व का शिक्षण । घोडा़ निकालना या फेरना ।

२. एश्व की पीठ ।

३. उच्चता । उदात्तता ।

४. उत्थान । समुत्थान ।

५. सीधा खडा होना । खडे़ होने की स्थिति [को॰] ।