एकतन

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

एकतन क्रि॰ वि॰ [हिं॰ एक+तन=ओर, तरफ] दे॰ 'इकतन' । उ॰—इकतन नर एकतन भई नारी । खेल मच्यो ब्रज कै बिच भारी । —सूर, २ ।३५१९ ।