एकपलिया

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

एकपलिया (मकान) संज्ञा पुं॰ [हिं॰ एक+पल्ला+इया (प्रत्य॰)] वह मकान जिसमें बँड़ेर नहीं लगाई जाती बल्कि लंबाई की दोनों आमने सामने की दीवारों पर लकड़ियाँ रखकर छाजन की जाती है । छाजन की ढाल ठीक रखने के लिये एक ओर की दीवार ऊँची कर दी जाती है ।