एकवेणी

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

एकवेणी वि॰ [सं॰]

१. जो (स्त्री) श्रृंगार की रीति से कई चोटियाँ बनाकर सिर न गुँथाए बल्कि एक ही चोटी बनाकर बालों को किसी प्रकार समेट ले ।

२. वियोगिनी । जिसका पति परदेश गया हो ।

३. विधवा ।