एकशेष

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

एकशेष वि॰ [सं॰]

१. एकमात्र बचा हुआ । उ॰—कर भस्मीभूत समस्त विश्व को एकशेष, उड़ रही धूल, नीचे अदृश्य हो रहा देश । —अनामिका , पृ॰ ८४ ।

२. द्वंद्व समास का एक भेद जिसमें दो या अधिक पदों में से एक ही शेष रह जाता है । जैसे—पितरौ=माता और पिता [को॰] ।