एकश्रुति

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

एकश्रुति संज्ञा स्त्री॰ [सं॰] वेदपाठ करने का वह क्रम जिसमें उदात्तादि स्वरों का विचार न किया जाय ।