एकाङ्गी

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

एकांगी वि॰ [सं॰ एकङ्गिन]

१. एक ओर का । एक पक्ष का । एकतरफा । जैसे—एकांगी प्रीति । उ॰—'तुम्हारी' भक्ति अभी एकांगी है ।' —इतिहास, पृ॰ ६७ ।

२. एक ही पक्ष पर अड़नेवाला । हठी । जिद्दी ।

३. एक ओषधि जो कड़वी, शीतल और स्वादिष्ट होती है । यह पित्त, वात, ज्वर, रुधिर- दोष आदि को नष्ट करती है ।

४. एक अंगवाला ।

५. असमाप्त । अपूर्ण (को॰) ।