ऐनीता

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ऐनीता संज्ञा पुं॰ [फा॰ आईनहु] बंदर को शीशा या दर्पण दिखाना (कलंदरों की बोली) ।