औंड़ी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

औंड़ी वि॰ [हि॰ औंधी] उलटी । औंधी । उ॰—(क) फेरी नृत्य डौंड़ी यह औंड़ी बात जानि महा; कही राजा रंक पढ़े नीकी ठौर जानि कै ।—भक्तमाल (श्रीभक्ति॰), पृ॰ ५१३ । (ख) कर स्वतंत्र अधिकार सभी पिटवायी डौंड़ी । धूर्त चला जो जाल (चाल) पड़ी वह कभी न औंड़ी ।—कविता॰ कौ॰, भा॰ २, पृ॰ ३५७ ।