औपनिषदिक

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

औपनिषदिक वि॰ [सं॰]

१. उपनिषद् संबंधी या उपनिषद् के समान । उ॰—वैदिक साहित्य से औपनिषदिक साहित्य की विशेषताएँ निम्न निर्दिष्ट हैं ।—सं॰ दरिया (भू॰), पृ॰ ५६ ।

२. उपनिषद् के अध्यापन से गुजर बसर करनेवाला ।

औपनिषदिक कर्म ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰] कौटिल्य अर्थशास्त्र के अनुसार वे कर्म जो शात्रु का नाश करनेवाले कहे गए हैं । शत्रुनाशक कार्य ।