कँटिया

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

कँटिया संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ कण्टकी, कण्टकिका, हिं॰ काँटी]

१. काँटी । छोटी कील ।

२. मछली मारने की पतली नोकदार अँकुसी ।

३. अँकुसियों का गुच्छा जिससे कुएँ में गिरी हुई चीजें गगरा, रस्सा आदि निकलते हैं ।

४. किसी प्रकार का अँकुसी जिससे वस्तु फँसाइ या उलझाई जाय ।

६. एक प्रकार का गहना जो सिर पर पहना जाता है ।

७. इमली की वे छोटी फलियाँ जिनमें बीज न पड़े हों । कतुलो ।