कई

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

विशेषण

  1. एकाधिक लोग

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

कई ^१ वि॰ [सं॰ कति, प्रा॰ कइ] एक से अधिक । अनेक । जैसे, —कई बार । कई आदमी । यौ॰—कई एक=अनेक । बहुत से । कई बार= कितने बार । कई दफा ।

कई ^२ वि॰ [सं॰ कृत, पु किश्र, पु किय ] की हुई । उ॰— अपराध छमिबो बोल पठए बहुत हौं ढिठयो कई ।— मानस, १ ।३२६ ।

कई ^३ क्रि॰ स॰ [हिं॰ कहना का भूत कृ॰, † कैना (खड़ी)] कही । उ॰—जा री जा सखि भवन आपुने लाख बात की एकु कई री ।—नंद ग्रं॰, पृ॰ ३६७ ।

कई पु ^४ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ काई ] दे॰ 'काई' । उ॰— सरिता संजम स्वच्छ सलिल सब, फाटी काम कई । सूर॰, १० ।३३४२ ।