कर्तरी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

कर्तरी संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. कैंची । कतरनी ।

२. (सुनारों की) काती ।

३. छोटी तलवार । छुरी । कटारी ।

४. ताल देने का एक बाजा ।

५. फलित ज्योतिष का एक योग । जब दो क्रुर ग्रहों के बीच में चंद्रमा या कोई लग्न हो, तब कर्तरी योग होता है । इससे कन्या की मृत्य और अपना बंधन होता है ।

६. बाण का वह भाग जहाँ पख लगाया जाता है [को॰] ।