किरिमदाना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

किरिमदाना संज्ञा पुं॰ [सं॰ कृमि + हिं॰ दाना] किरमिज नामक कीड़ा । किरमिजी । विशेष—ये एक प्रकार के छोटे छोटे कीड़े होते हैं जो थूहड़ के पेड़ों पर फैलते है । ये इतने छोटे होते हैं कि लगभग ७० हजार कीड़े तौल में आध सेर होते हैं । मादा कीड़ों को इकट्ठा कर सुखा लेते हैं और उन्हे पीस कर रँगने के काम में लाते है । इसी बुकनी को किरमिजी या हिरमिजी कहते हैं । इसका रंग हलका और मटमैला लाल होता है ।