कैद

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

कैद संज्ञा स्त्री॰ [अ॰ कै़द] [वि॰ कैदी]

१. बंधन । अवरोध ।

२. एक प्रकार का दंड़ जों राजनियम के अनुसार या राजाज्ञा से दिया जाता है और जिसमें अभियुक्त को किसी बंद स्थान में रखते हैं । कारागारवास । कारावास । विशेष—आजकल अंग्रेजी कानून में कैद तीन प्रकार की होती है । कैद महज या सादी कैद, कैद सख्त और कैद तनहाई । यौ॰— कैदखाना । क्रि॰ प्र॰—करना ।—भुगतना ।—रखना ।—होना । मुहा॰—कैद काटना या भरना = कैद में दिन बिताना । कैद में रहना ।

३. किसी प्रकार की शर्त, अटक या प्रातिबध । जैसे, (क) —पहले मिडिल पास मुखतारी की परीक्षा दे सकते थे; पर अब इसमें एंट्रेस की कैद लग गई है । (ख) सरकारी नौकरी में उम्र की कैद हैं । क्रि॰ प्र॰—रखना ।—लगाना ।—लगाना ।—होना ।