कोच

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

कोच ^१ संज्ञा पुं॰ [अ॰]

१. एक प्राकार की चौपहिया बढ़िया घोड़ा गाड़ी । यौ॰— कौचबकस । कोचवान ।

२. गद्दुँदार बढ़िय़ा पलंग बेच या आरामकुरसी ।

कोच ^२ संज्ञा पुं॰ [हि॰ कोचना] वह लंबी छड़ जिसकी सहापता से भट्ठे मे से ढले हुए बरतन निकाले जाते हैं ।

कोच ^३ संज्ञा पुं॰ [?] टूटे हुए जहाज का टुकड़ा —(लश॰) ।

कोच ^४ संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. सँकोव । संकोचन ।

२. एक मिश्र जाति । कैवर्त और कसाई स्त्री के संयोग से उप्तन्न जाति [को॰] ।