कोर्ट

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

कोर्ट ^१ संज्ञा पुं॰ [अं॰] अदालत । कचहरी ।

कोर्ट ^२ संज्ञा पुं॰ [अं॰] कोर्ट पीस नामक ताश के खेल में एक प्रकार की जीत जो लगातार सात हाथ जीतने से होती और सात बाजियाँ जीतनें के बराबर समझी जाती है ।

कोर्ट आफ वार्डस् संज्ञा पुं॰ [अं॰] वह सरकारी विभाग जिसके द्वारा किसी अनाथ, विधवा या अयोग्य मनुष्य की भारी जायदाद का प्रबंध होता है । कोरट । विशेष—जब से जमींदारी प्रथा समाप्त हुई यह विभाग बंद कर दिया गया ।

कोर्ट इसपेक्टर संज्ञा पुं॰ [अं॰] पुलिस का वह कर्मचारी जो पुलिस की और से फौजदारी मुकदमों की पैरवी करता है ।

कोर्ट मार्शल संज्ञा पुं॰ [अं॰] फौजी अदालत जिसमें सेना के नियमों कौ भंग करनेवाले, सेना छोड़कर भागनेबाले तथा बागी सिपाहियों का विचार होता है ।