कौशल

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

कौशल संज्ञा पुं॰ [ सं॰ ] कुशलता । चतुहाई । निपुणता । उ॰—हुए टाँकियों के कौशल से उपल सुकोमल उत्पल ज्यों ।—साकेत, पृ॰ ३७४ ।

१. मंगल ।

३. कोशल देश का निवासी ।

४. मस्यपुराण के अनुसार बह कक्ष जिसमें ४६ स्तंभ हों [को॰] ।