खिड़की

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

संज्ञा[सम्पादन]

स्त्री॰

अनुवाद[सम्पादन]

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

खिड़की संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ खटक्किका, देशी खडक्किआ, खडक्की]

१. किसी मकान या इमारत की दीवार में प्रकाश और वायु आने के लिये बना हुआ छोटा दरवाजा । जहाज, रेल, आदि के डब्बे में बनाया हुआ वातायन । दरीचा । झरोखा । मुहा॰—खिचकी निकलना या फोड़ना = खिड़की बनाना ।

२. नगर या किले का चोर दरवाजा ।

३. खिडकी के आकार का खाली स्थान । यौ॰—खिड़कीदार अँगरखा = एक प्रकार का अँगरखा जो आगे ऊपर की ओर खुला रहता है । खिड़कीदार पगड़ी=एक प्रकार की पगड़ी जिसमें ऊपर की ओर कुछ भाग खुला रहता है । खिडकीबंद मकान=वह मकान जो पूरा का पूरा एक किराए— दार द्वारा लिया गया हो ।