खोटा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

खोटा वि॰ [सं॰ क्षुद्र या खोट = खोड़ी (दूषित)] [स्त्री॰ खोटी] जिसमें कोई ऐब हो । दूषित । बुरा । 'खरा ' का उलटा । जैसे ,—खोटा रुपया, खोटा सोना, खोटा आदमी । मुहा॰—खोटा खरा = भला बुरा । उत्तम और निकृष्ट । खोटा खाना = बेईमानी से या बुरी तरह से कमाकर खाना । उ॰— फाटक दै कै हाटक माँगत भोरो निपट सुधारी । धुर ही ते खोटो खायो है लिए फिरत सिर भारी । सूर (शब्द॰) । खोटी करना = खोटापन या बुराई करना । खोटी बोलना = बुरी बात बोलना । खोटी खरी सुनाना = दुर्वचन कहना । डाँटना । फटकारना ।