गंगानहान

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

गंगानहान संज्ञा पुं॰ [सं॰ गङ्गा + स्नान]

१. किसी पर्व पर गंगा- स्नान का मेला ।

२. किसी तीर्थ में स्नान करना । उ॰— कलकी में गंगानहान की बढ़ी उमंगै ।—अपरा, पृ॰ १९६ । क्रि॰ स॰-करना ।—होना ।