गहरा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

विशेषण

अनुवाद


प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

गहरा वि॰ [सं॰ गम्भीर, पा॰ गहीर] [वि॰ स्त्री॰ गहरी]

१. (पानी) जिसमें जमीन बहुत अंदर जाकर मिले । जिसकी थाह बहुत नीचे हो । गंभीर । निम्न । अतलस्पर्श । जैसे, गहरी नदी । उ॰—जिन ढूँढ़ा तिन पाइया, गहरे पानी पैठ । हौं बौरी ढूँढन गई, रही किनारे बैठ ।—कबीर (शब्द॰) । गुहा॰—गहरा पेट = ऐसा पेट जिसमें बहुत सी बातें पच जायँ । ऐसा हृदय जिसका भेद न मिले । जैसे,—उसकी बातें कोई नहीं जान सकता; उसका बड़ा गहरा पेट है ।

२. जो सतह से नीचे दूर तक चला गया हो । जिसका विस्तार नीचे की ओर अधिक हो । जेसा,—गहरा गड्ढा, गहरा बरतन ।

३. बहुत अधिक । ज्यादा । घोर । प्रचंड । भारी । जेसे,—गहरा नशा, गहरी नींद, गहरी भूल, गहरी मार, गहरी चोट, गहरी मित्रता इत्यादि । मुहा॰—गहरा असामी = (१) भारी आदमी । बड़ा आदमी । ज्यादा देनेवाला । गहरे लोग = चतुर लोग । भारी उस्ताद । घोर धूर्त । ऐसे लोग जिनका भेद कोई न पावे । जैसे,— लड़के घड़ी कैसे उड़ा ले जायँगे । यह गहरे लोगों का काम है । (२) ऐसे लोग जिनकी विद्या गंभीर हो । विद्वान् लोग गहरा हाथ = हथियार का भरपूर वार जिससे खूब चोट लगे । शस्त्र का पूर्ण आघात । गहरा हाथ मारना = (१) हथियार का भरपूर वार करना । (२) भारी माल उड़ाना । खूब धन चुराना । (३) बहुत माल पैदा करना । किसी बड़ी भारी या अनूठी वस्तु को प्राप्त करना । जैसे,—इस बार तो तुमने गहरा हाथ मारा ।

४. दृढ । मजबूत । भारी । कठिन । उ॰—तौल तराजू छमां सुलच्छण तब वाके घर जैयौ । कहैं कबीर भाव बिन सौदा गहरी गाँठ लगैयो ।—कबीर (शब्द॰) ।

५. जो हलका या पतला न हो । गाढ़ा । जैसै,—गहरा रंग, कहरी भंग । मुहा॰—गहरी घुटना = (१) खूब गाढ़ी भंग घुटना या पिसना । (२) गाढ़ी मित्रता होना । (३) साथ में खूब आमोद प्रमोद होना । जैसे,—उन लोगों की आजकल खूब गहरी घुटती है । गहरी छनना = (१) खूब गाढ़ी या अधिक भंग का पिया जाना । (२) गाढ़ी मित्रता होना । अत्यंत घनिष्ठता होना । बहुत हेल मेल होना । (३) साथ में खूब आमोद प्रमोद होना । खूब घूल घूल कर बातचीत होना । गहरी साँस लेना = ठंढी साँस लेना । संतोष या अतीत का स्मरण करना ।