गाना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

संज्ञा

  1. गीत

क्रिया

  1. गाना

उदाहरण

संज्ञा
  1. क्या आप कोई गाना गा सकते हैं?
क्रिया
  1. मुझे गाना बहुत अच्छा लगता है।

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

गाना ^१ क्रि॰ स॰ [सं॰ गान]

१. ताल, स्वर के नियम के अनुसार शब्द उच्चारण करना । आलाप के साथ ध्वनि निकालना । जैसे,—गीत गाना, मलार गाना ।

२. मधुर ध्वनि करना । जैसे,—तूती क गाना, कोयल का गाना ।

३. वर्णन करना । विस्तार के साथ कहना । उ॰—द्विजदेवजू देखि अनोखी प्रभा चलि चारन कीरति गायो करैं । चिरजीवो वसंत सदा द्विजदेव प्रसूनन की झरि लायो करैं । द्विजदेव (शब्द॰) । मुहा॰—अपनी अपनी गाना = अपनी अपनी बात सुनाना । अपना दुखड़ा रोना । अपनी ही गाना = अपनी ही बात कहते जाना । अपना ही हाल कहना । अपना ही विचार प्रकट करना । अपने ही मतलब की बात करना । जैसे, तुम तो अपनी ही गाते हो, दूसरे की सुनते नहीं ।

४. स्तुति करना । प्रशंसा करना । बखान करना । जैसे,—(क) सब लोग उसका गुन गाते हैं । (ख) वह जिससे पात है, उसकी गात है । उ॰—(क) गाइये गणपति जगबंदन ।— तुलसी (शब्द॰) । (ख) द्विजदेव जू देखि अनोखी प्रभा अलि चारन कीरति गायो करैं ।—द्विजदेव (शब्द॰) । मुहा॰—गाना बजाना = आमोद प्रमोद करना । उत्सव मनाना । जैसे,—सब लोग गाते बजाते अपने घर गए ।

गाना ^२ संज्ञा पुं॰

१. गाने की क्रिया । गान ।

२. गाने की चीज । गीत । जैसे,—कोई अच्छा गाना सुनाओ ।