गुटिका

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

गुटिका संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. बटिका । बनी । गोली ।

२. एक सिद्धि । उ॰—अंजन, गुटिका, पादुका, धातुभेद, बैताल, वज्र रसा— यन जोगिनी, मोहिं सिद्ध यहि काल ।—हरिश्चंद्र (शब्द॰) । विशेष—इसके अनुसार एक गोली या गुटका मुँह में रख लेने से कहते हैं कि जहाँ चाहे वहाँ चले जायँ और कोई देख नहीं सकता ।