गुप्त

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

विशेषण[सम्पादन]

अर्थ[सम्पादन]

किसी को भी उस बारे में ज्ञान न होना। किसी वस्तु को छिपाना, छिपाई हुई वस्तु गुप्त वस्तु कहलाएगा।