गोष्ठी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

गोष्ठी संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. वहुत से लोगों का समूह । सभा । मंडली ।

२. वार्तालाप । बातचीत ।

३. परामर्श । सलाह ।

४. एक ही अंक का वह रूपक या नाटक जिसमें पाँच या सात स्त्रियाँ और नौ या दस पुरुष हों ।