चंगा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

चंगा वि॰ [सं॰ चङ्ग] [वि॰ स्त्री॰ चंगी]

१. स्वस्थ । तंदुरुस्त । नीरोग जैसे—इस दवा से तुम दो दिन में चंगे हो जाओगे । क्रि॰ प्र—करना ।—होना ।

२. अच्छा । भला । सुंदर । उ॰—भले जू भले नंदलाल, वेऊ भली चरन जावक पाग जिनहिं रंगी । सूर प्रभु देखि अंग अंग बानिक कुशल मैं रही रीझि वह नारि चंगी ।—सूर (शब्द॰) ।

३. निर्मल । शुद्ध । जैसे—मन चंगा तो कठौती में गंगा । उ॰—कथा माँहि एकसुना प्रसंगा । राम नाम नौका चित चंगा ।—घट॰, पृ॰ २२६ ।