चर्च

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

चर्च ^१ संज्ञा पुं॰ [अ॰]

१. वह मंदिर जिसमें ईसाई प्रार्थना करते हैं । गिरजा ।

२. ईसाई धर्म का कोई संप्रदाय । विशेष—ईसाई धर्म में अनेक संप्रदाय हैं और अनेक संप्रदाय के चर्च या प्रार्थनामंदिर भिन्न भिन्न होते हैं । जो ईसाई जिस संप्रदाय का होता है, वह उसी संप्रदाय के चर्च में जाता और फलत: उसी चर्च का अनुयायी कहलाता है ।

चर्च ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰] विचार । ध्यान । चिंतन [को॰] ।