चाटना

विक्षनरी से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

चाटना क्रि॰ स॰ [अनु॰ चट चट (= जीभ चटने का शब्द॰)]

१. खाने या स्वाद लेने के लिये किसी वस्तु को जीभ से उठाना । किसी पतली या गाढ़ी चीज को जीभ से पोंछकर मुँह में लेना । जीभ लगाकर खाना । जैसे,—शहद चाटना, अवलेह चाटना । संयो॰ क्रि॰—जाना ।—लेना ।—डालना ।

२. पोंछकर खा लेना । चट कर जाना । जैसे,—इतना हलुआ था, सब चाट गए । मुहा॰—चाट पोंछकर खाना = सब खा जाना । कुछ भी न छोड़ना ।

३. (प्यार आदि से) किसी वस्तु पर जीभ फेरना । जैसे,— गाय अपने बछडे़ को चाट रही है । यौ॰—चूमना चाटना = प्यार करना ।

४. कीड़ों का किसी वस्तु को का जाना । जैसे, जितना कागज था, सब दीमक चाट गए ।

५. धन संपति बेच डालना ।

६. खुशामद करना ।