चाहना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

क्रिया[सम्पादन]

अनुवाद[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

चाहना ^१ क्रि॰ स॰ [हिं॰ चाह]

१. इच्छा करना । अभिलाषा करना ।

२. प्रेम करना । स्नेह करना । प्यार करना ।

३. लेने या पाने की इच्छा प्रकट करना । माँगना । जैसे— हम तुमसे रुपया पैसा कुछ नहीं चाहते ।

४. प्रयत्न करना । जोर करना । कोशिश करना । जैसे, —उसने बहुत चाहा कि हाथ छुड़ाकर निकल जायँ पर एक न चली ।

५. चाह से देखना । ताकना । निहारना । उ॰—पुनि रुपवंत बखानौ काहा । जावत जगत सबै मुख चाहा ।—जायसी (शब्द॰) ।

६. ढूँढ़ना । खोजना । तलाश करना ।

चाहना ^२ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ चाहना] चाह । जरूरत । उ॰—ग्वाल कवि वे ही परसिद्ध सिद्ध जो हैं जग, वे ही परसिद्ध ताकी यहाँ है सराहना । जाकी यहाँ चाहना है ताकी वहाँ चाहना है, जाकी यहाँ चाह ना है ताकी वहाँ चाह ना ।—ग्वाल (शब्द॰) ।