छत्ता

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

छत्ता संज्ञा पुं॰ [सं॰ छत्र, प्रा॰ छत्त]

१. छाता । छतरी ।

२. पटाव या छत जिसके नीचे से रास्ता हो ।

३. मधुमक्खी, भिड़ आदि के रहने का घर जो मोम का होता है और जिसमें बहुत मे खाने रहते हैं ।

४. छाते की तरह दूर तक फैली हुई वस्तु । छतनार चीज । चकत्ता । जैसे, दूब का छत्ता । दाद का छत्ता ।

५. कमल का बीजकोश । पु

६. छत्रसाल राजा ।