छप्पन

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

विशेषण

संज्ञा

छप्पन

  1. संख्या ५६.

अनुवाद


यह भी देखिए

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

छप्पन ^१ वि॰ [सं॰ षट्पंचाशत्, प्रा॰ छप्पणण, छप्पन] जो गिनती में पचास और छह हो । पचास से छह अधिक ।

छप्पन ^२ संज्ञा पुं॰

१. पचास और छह की संख्या ।

२. इस संख्या का सूचक अंक जो इस प्रकार लिखा जाता है—५६ । मुहा॰—छप्पन टके का खर्च = अधिक खर्च । उ॰—पूछो, रोटी दाल में ऐसा कौन सा छप्पन टके का खर्च है ।—रंगभूमि, भा॰२, पृ॰ ७०२ । यौ॰—छप्पन भोग = (१) छप्पन प्रकार का व्यंजन । (२) मंदिरों में होनेवाला एक उत्सव जिसमें छप्पन प्रकार के भोज्य पदार्थ भगवान् को अर्पण किए जाते हैं । उ॰—व्यंजन चार प्रकार के छप्पन भोग बिलास । रामा एकण भाव में जाणै हरि के दास ।—राम॰ धर्म॰, पृ॰ २४ ।