छैला

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

छैला संज्ञा पुं॰ [सं॰ छवि+प्रा॰ इल्ल (प्रत्य॰), प्रा॰ छबिल्ल, छयल्ल, छइल्ल] सुंदर और बना ठना आदमी । सुंदर वेश- विन्यासयुक्त पुरुष । जो अपना अंग खूब सजाए हो । सजीला । बाँका । रँगीला । शौकीन ।