जंजीरा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

जंजीरा संज्ञा पुं॰ [हिं॰ जंजीर] एक प्रकार की सिलाई जो देखने में जंजीर की तरह मालूम पड़ती है । यह फाँस डालक र सी जाती है और यह केवल कसीदे और सूईकारी में काम आती है । लहरिया । क्रि॰ प्र॰—डालना ।