जति

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

जति ^१पु क्रि॰ [सं॰ जेतृ] जेता । जीतनेवाला । उ॰—चरन पीठ उन्नत नत पालक, गुढ़ गुलुफ जंघा कदली जति ।—तुलसी ग्रं॰, पृ॰ ४१५ ।

जति ^२ † संज्ञा पुं॰ [सं॰ यति] दे॰ 'यति' । उ॰—स्वान खग जति न्याउ देख्यो आपु बैठि प्रबीन । नीचु हति महिदेव बालक कियो मीचु बिहीन ।—तुलसी ग्रं॰, पृ॰ ४२२ ।